25 मार्च 2019 को प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान की जयंती

25 मार्च 2019 को प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान की जयंती मनाने की तैयारी पूरी

हर वर्ष की भांति इस बार भी राष्ट्रीय कुशवाहा महासभा द्वारा प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान की जयंती मनाने की तैयारियां पूरी

भव्य रूप से 25 मार्च 2019 को प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान की जयंती मनाने की तैयारी पूरी 25 मार्च 2019 को

प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान जयंती समारोह 25 मार्च 2019 दिन सोमवार  को जूनियर हाई स्कूल पडरौना कोतवाली के सामने मनाया जाएगा । राष्ट्रीय  कुशवाहा महासभा जनपद कुशीनगर की आवश्यक बैठक

पूर्व सूचना अनुसार सूर्य नारायण कुशवाहा के कॉलेज में सपहा में हुई । जिसमें संगठन को गांव-गांव तक मजबूत बनाने पर विचार किया गया ।

बैठक को संबोधित कर रहे भाजपा के वरिष्ठ  नेता व कार्यक्रम के संस्थापक श्री चंद्रभान कुशवाहा जी ने इसमें प्रमुख रूप से राष्ट्रीय कुशवाहा महासभा के प्रदेश अध्यक्ष श्री परशुराम कुशवाहा जी,

जिला अध्यक्ष सीता नारायण कुशवाहा जी, महामंत्री अमित कुशवाहा जी,रामानंद कुशवाहा, प्रेम प्रकाश कुशवाहा, गोरख कुशवाहा, जयप्रकाश ,बालकृष्ण कुशवाहा  आदि सैकड़ों लोग उपस्थित रहे ।

मोटर वेहिकाल एक्ट 2019 संसोधन

प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान का जन्मदिन 25 मार्च 2019 दिन सोमवार को रखा गया है ।

25 मार्च 2019 को
प्रियदर्शी  सम्राट अशोक महान

प्रियदर्शी  सम्राट अशोक मौर्य का संक्षिप्त परिचय के बारे में जानते हैं,  जैसा कि हम जानते हैं, विश्व पटल पर महा मानव गौतम बुद्ध  चक्रवर्ती ,चंद्रगुप्त मौर्य, सम्राट अशोक महान  सामाजिक ,

राजनीतिक आर्थिक परिवर्तन की  पहली लाइन में जाने जाते हैं। मौर्य वंश का स्थापना के साथ  सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य ने बृहद भारत की सीमा को सबसे पहले रेखांकित किया तथा पूरे भारतीय समाज को एक सूत्र में पिरोने का काम किया । उनके समय घरों में ताले नहीं लगते थे शेर ।

बकरी एक साथ घाट पर पानी पिया करते थे । यहां तक यह कि जानवरों की सुख सुविधा का ख्याल रखें रखते थे । उन्ही के पौत्र सम्राट अशोक महान ने उस देश की सीमाओं का विस्तार कर अपने राज्य में काबुल ,कंधार, हिसार, अफगान आदि देश

शामिल कर मौर्य वंश के भारत बृहद  भारत 137 वर्ष तक मौर्य वंश राज किया । उसमें 41 वर्ष अकेले प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान ने राज किया जो पूरे विश्व के इतिहास में एक मिसाल है । इतने समय  तक किसी दूसरे राजा ने शासन नहीं किया ।

अपने पूर्वजों का नमन करते हुए आप सभी बंधुओं एवं भाइयों बहनों को सूचित करते  हुए अपार हर्ष का अनुभव हो रहा है, कि बहुत दिन से आप सब के दिल में सबके मनो में विचार-विमर्श के कल्पना होती रही है ,कि सभी बंधुओं का कोई एक सामूहिक मिलन होता जहां मिल बैठ कर, सोच विचार कर अपने अतिथि की चर्चा करते ।

और भविष्य में अपने देश समाज की कोई प्रतिष्ठा सामाजिक सम्मान प्राप्त करने के लिए आर्थिक ,सामाजिक, राजनीतिक क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए समाज में व्याप्त अंधविश्वास कुर्तियों नष्ट करके समाज की संरचना के लिए जागरूक होने का समय आ गया है । देर ना करें सवेरा होने वाला है सूर्य उदय होने वाला है ।

उठो जागो संकल्प लो की सोते हुए बहुत देर हो गई है । अपने भूले भटके बंधुओं जो उपनाम नामों में जाने जाते हैं सभी लोग बिना किसी भेदभाव के मानवता वादी समता भाईचारा बंधुत्व विचारधारा को

आधार बनाकर एक मंच पर आकर मिल बैठकर अपनी शक्ति को संगठित  करें । संगठन में असील शक्ति है,बल है, उर्जा है और अदम में क्षमता है । यदि आप सभी लोग पूरे भारत में एक हो जाए तो कठिन से कठिन काम  आसान हो जाएगा ,एकता का परिचय अवश्य दें । यही वर्तमान समय का पुकार है।

2 thoughts on “25 मार्च 2019 को प्रियदर्शी सम्राट अशोक महान की जयंती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: